Friday, April 12, 2024
HomeUncategorizedJAC Board: मैट्रिक व इंटर में मार्क्स फाइल करने का बदला प्रारूप,...

JAC Board: मैट्रिक व इंटर में मार्क्स फाइल करने का बदला प्रारूप, अब तीन बार होगी अंकों की जांच

JAC Board: झारखंड अकादमिक कौंसिल में मैट्रिक और इंटर की मार्क्स फाइल का प्रारूप बदल चुका है, जिसमें अब अंकों की तीन बार जांच की जाएगी। साथ ही, 67 केंद्रों पर कॉपियों की जांच का कार्य भी शुरू हो गया है।

जैक बोर्ड: मैट्रिक व इंटर में मार्क्स फाइल करने का बदला प्रारूप

जैक बोर्ड: झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की उत्तरपुस्तिका का मूल्यांकन शनिवार से 67 केंद्रों पर आरंभ हो गया है। मैट्रिक के लिए 36 और इंटर के लिए 31 परीक्षा केंद्र स्थापित किए गए हैं। पहले दिन से ही पूरे राज्य में परीक्षकों ने अपना योगदान देने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इस बार के मूल्यांकन में मार्क्स फाइल के प्रारूप में कई बदलाव किए गए हैं। अब अंकों की जांच को तीन बार किया जाएगा। मार्क्स फाइल ओएमआर शीट पर आधारित होगी और स्टैंडर्ड मार्क्स फाइल दो प्रतियों में बाँटी जाएगी। परीक्षकों को मार्क्स फाइल की कंप्यूटर कॉपी को कोडवार, विषयवार और क्रमवार संगठित करना होगा। मार्क्स फाइल के मूल पृष्ठ पर परीक्षकों को बॉल पेन का इस्तेमाल करके नंबर के अनुसार अंकों को रंग देना होगा।

International Women’s Day 2024: महिलाओं द्वारा की गई उपलब्धियों और प्रगति का जश्न मनाया जाता है

JAC Boardओएमआर शीट की जाएगी स्कैन

जैक बोर्ड:एक मार्क्स फाइल में 25 छात्रों के अंक दर्ज होते हैं, जबकि एक ओएमआर शीट पर तीन जगहों में अंक की जांच का प्रावधान होता है। प्रत्येक छात्र के अंक को पहले उसके रोल नंबर के सामने लिखा जाता है और फिर उस संख्या को ओएमआर शीट में कलर किया जाता है। अंत में, सभी छात्रों के अंकों का कुल योग किया जाता है और यह रिजल्ट तैयार होता है। रिजल्ट तैयार करते समय, ओएमआर शीट को स्कैन किया जाता है। अगर किसी ओएमआर शीट में भिन्न अंकों की भिन्नता मिलती है, तो कंप्यूटर उस मार्क्स फाइल को त्रुटिपूर्ण मानेगा और पुनः जांच की जाएगी।

WPL 2024: हरमनप्रीत कौर ब्लिट्ज ने मुंबई इंडियंस को प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई करने में की मदद, छक्का मार कर अपनी टीम को जीत…

MP Board Result 2024: अब नहीं करना होगा ज्यादा इंतजार, अप्रैल में इस डेट तक जारी होंगे एमपी बोर्ड के परिणाम

JAC Boardअब रिजल्ट में विसंगति नहीं होगी

  • पहले, मैट्रिक और इंटर की परीक्षार्थियों के मार्क्स का ऑनलाइन रिकॉर्ड नहीं था।
  • इस प्रक्रिया में हस्तलिखित फाइल तैयार करने की जरूरत थी।
  • इसमें गड़बड़ी की संभावना रहती थी जो विद्यार्थियों के रिजल्ट को प्रभावित करती थी।
  • रिजल्ट जारी होने के बाद, सुधार कराने में विद्यार्थियों को परेशानी होती थी।
  • अब, रिजल्ट में ऐसी विसंगतियाँ नहीं होंगी जो पहले होती थी।
  • इसके अतिरिक्त, रिजल्ट को अब कम समय में तैयार किया जाएगा।
  • यह उन्हें अधिक समय प्राप्त करने में मदद करेगा।
  • इससे परीक्षार्थियों की परिणामों को सही और विश्वसनीय बनाया जा सकता है।
  • यह प्रक्रिया डिजिटल सुरक्षा और गोपनीयता को भी बढ़ावा देगी।
  • सम्पूर्ण प्रक्रिया अब अधिक पारदर्शी और अनुप्रयोगी होगी।

8th Pay Commission: खुशखबरी-खुशखबरी! केंद्रीय कर्मचारियों की खुल जाएगी किस्मत, 8वें वेतन आयोग पर मिली खुशखबरी

कोर्ट-कचहरी के चक्कर में हो रहे नुकसान से बचाएगा लीगल इंश्योरेंस, डॉक्टर, इंजीनियर और छोटे कारोबारियों के लिए है फायदेमंद

मई अंत तक जारी होगा रिजल्ट

परिक्षा की अंतिम दिन तक पूरी हो जाएगी उत्तरपुस्तिका की मूल्यांकन प्रक्रिया। मई के अंत तक घोषित होंगे परिणाम, अपेक्षित रूप से। लगभग आठ लाख छात्रों ने परीक्षा दी थी, मैट्रिक और इंटर की। पहले मैट्रिक का परिणाम जारी किया जा सकता है, साइंस के साथ। इंटर साइंस का परिणाम भी जारी हो सकता है, पहले ही। परिणाम जारी किए जाने की संभावना है, अधिकांश छात्रों को इंतजार है। उत्तरपुस्तिका की मूल्यांकन प्रक्रिया समाप्त होने के बाद, सभी नतीजे तैयार होंगे।  छात्रों को आशा है कि उनके प्रतिष्ठान अगले परिणाम में अच्छे प्रदर्शन करेगा। परीक्षा में उनके प्रदर्शन को लेकर उत्सुकता और उत्साह बढ़ रहा है। छात्रों के बीच उत्तरपुस्तिका की प्रतीक्षा में महसूस हो रहा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular